Benefits of Aesculus hippocastanum in hindi

By | January 19, 2019

Benefits of Aesculus hippocastanum in hindi

आपको यदि पिल्स हुआ है तो आप एलॉपथी के चक्कर में न पड़े कियुनकी एलॉपथी में कम होने की चांसेस बहुत कम होते हैं .में जो मेडिसिन के बारे में आज बताऊंगा यह मेडिसिन को होम्योपैथिक में पाइल्स केलिए बहुत ज्यादा use किया जाता है .मुख्यत यह इंटरनल ब्लाइंड पिल्स में use किया जाता है .इसे पाइल्स केलिए दिन में तिन बार लेना चाहिए 10 बूंद करके .

इसका जो अगला symptom होता है जो आपका पैन होता है वह फ्लाइंग मोड में होता है .मतलब दर्द कभी भी एक जगह पर नही रहेता है .कभी एक जगह पर कभी और कहाँ पर होता है .

यह मेडिसिन जहाँ पर ब्लड की मात्रा ज्यादा होकर भारी भारी लगता है वहां पर इसका use करना चाहिए .आपको कहीं पर भी fullness होता है तोह आप इसका इस्तेमाल कीजिये .

बहुत ज्यादा गुसा होता है और आपा खोदेता है .बतामिज तरीके से बात करता है .

यह मेडिसिन बहुत ही लाभदायक होता है .मल दुआर सिराओं में रक्त संचार .

कमर में दर्द होने पर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है ,कमर की निचले हिसे में यदि दर्द होता है तोह इसका इस्तेमाल करना जरुरी है .

कुछ लोगो साँस लेने के टाइम यदि हबा जाने के टाइम ज्यादा थंड महेसुस होता है तो इसका इस्तेमाल करना चाहिए .

इस्त्री रोगी पेट में दर्द होता है ,खड़े होने में तकलीफ होती है .दर्द के साथ योनी से पिला रंग की पदार्थ निकलता है तो इसका उसे करना चाहिए .

रोगी की सर दर्द होता है साथ में जकृत के आसपास में चुवने जैसे महेसुस होता है तो इसका इस्तेमाल करना चाहिए .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *